रेडक्रॉस सोसायटी अम्बिकापुर के पहल पर नगर निगम क्षेत्र के मितानिन बहनों को भी कोविड से बचाव हेतु, आमजनों की सुविधा हेतु कोविड किट उपलब्ध करायी गई

अम्बिकापुर 15 जून 2021 / मितानिन सुदृढ़ीकरण अभियान के तहत अब रेडक्रॉस सोसायटी के पहल पर एक्ट ग्रांट के माध्यम से अम्बिकापुर नगर निगम क्षेत्र के मितानिन बहनों को भी कोविड से बचाव हेतु, आमजनों की सुविधा हेतु कोविड किट उपलब्ध करायी गई है। इस कीट में ऑक्सिमिटर, फेस स्कैनर, फेस शील्ड, फेस मास्क, साबुन, जागरूकता पुस्तिका सहित अन्य सामान रहेंगे, जिसके माध्यम से होमाइशोलेशन में रह रहे कोरोना मरीजों एवं शंका वाले कोरोना मरीजों के घर पर आकर ऑक्सीजन लेबल, टेम्प्रेचर सहित अन्य जांच करेंगी।गंभीर मरीजों को हॉस्पिटल में भर्ती होने एवं चिकित्सा हेतु सुझाव देंगी। आज निगम क्षेत्र के मितानिनों को सीएमएचओ कार्यालय के सभा कक्ष में किट का वितरण किया गया। इस अवसर पर वर्चुअल कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंह देव ने कहा कि मुझे ऐसा नहीं लगता कि सरगुजा में आज वहीं रेडक्रॉस सोसायटी है जिसे हम बरसों से केवल सुनते आ रहे हैं, लेकिन आज लगातार रेडक्रॉस सोसायटी के माध्यम से न सिर्फ कोरोना काल में बल्कि ऐसे भी स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर कार्य हो रहा है, रेडक्रॉस के माध्यम से जुड़कर मितानिन बहनें और बेहतर कार्य कोविड-19 में करेंगे, मैं इसकी शुभकामनाएं देता हुँ। रेडक्रॉस सोसायटी के चेयरपर्सन आदित्येश्वर शरण सिंह देव ने कहा कि जब भी मितानिन बहनों से बात होती थी तो वे हमेशा फेस मास्क, ऑक्सिमिटर एवं अन्य सामान की मांग करती थी, ताकि वे बेहतर तरीके से लोगों को सुरक्षित कर सकें,उन्हीं के मांग के अनुरूप हम सब के आपसी प्रयास का नतीजा है कि एक संस्था के सहयोग से कोविड के कार्य के लिए मितानिन बहनों को किट उपलब्ध करा रहे हैं।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए औषधि एवं पादप विकास बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक ने कहा कि मितानिनों के कार्य काफी अच्छा रहा है, एक-एक गांव तक इन्होंने पहुंच कर लोगों को जागरूक किया है और कोरोना की लड़ाई में काफी अहम योगदान है। बीस सूत्रीय कार्यक्रम क्रियान्वयन समिति के उपाध्यक्ष अजय अग्रवाल ने कहा कि यह हम सब के लिए बहुत बड़ी बात है कि प्रदेश के स्वास्थय मंत्री टी.एस. बाबा हैं और रेडक्रॉस में आदि बाबा दोनों लोगों में मिलकर लगातार सरगुजा के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य व्यवस्था देने का कार्य किया है। जिसका असर यह रहा की मेडिकल कॉलेज में वर्तमान में 40 आईसीयू बेड और लगभग 10 बेड का वेंटिलेटर तैयार हुआ है, कोरोना काल में लगातार सबका फोन रिसीव करना और लोगों को सुनना और उनकी समस्या का निवारण करना बहुत धैर्य का कार्य है जो कि हम लोगों के लिए एक उपलब्धि है। अब तक मितानिन बहन बिना किसी हथियार के कोरोना से फील्ड में लड़ाई लड़ रहीं थी, अब रेडक्रॉस और एक्ट ग्रांट से मिले सहयोग के बाद आवश्यक जरूरी सामान के साथ फील्ड में लोगों का बचाव करेंगी। महापौर डॉ अजय तिर्की ने कहा कि मितानिन बहनों का काम काफी अच्छा है, सरगुजा जिला मितानिन बहनों के कार्य के कारण प्रदेश स्तर पर भी इनका काफी नाम है, मैं स्वयं इनके कार्य की जब भी रायपुर मीटिंग में जाता हूँ तारीफ करता हूँ। कार्यक्रम को जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मधु सिंह, जिला पंचायत सदस्य राकेश गुप्ता ने भी संबोधित किया। इस दौरान सीएमएचओ डॉ पी.एस. सिसोदिया ने कहा कि सरगुजा जिला प्रदेश का पहला जिला है जहां पर मितानिन बहनें इस तरह का कार्य कर रही हैं। यह सब स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंह देव एवं रेडक्रॉस सोसायटी के चेयरपर्सन आदित्येश्वर सिंह देव के प्रयास और पहल से हुई है। हमने 30 हजार से अधिक होमाइशोलेशन के मरीजों को फोन पर सलाह देकर ठीक किया है और अब मितानिन बहनों के सहयोग से और भी तेजी से कोविड को लेकर कार्य करेंगे। इस दौरान कई मितानिन बहनों ने स्वास्थ्य मंत्री टी एस सिंह देव से कई विषय पर चर्चा की और किट वितरण हेतु धन्यवाद दिया। इस दौरान एक्ट ग्रांट की टीम, संगवारी की टीम, जिला पंचायत सदस्य राधा रवि, अनिमा केरकेट्टा, बंटी शर्मा, हेमंत सिन्हा, हेमंत तिवारी, मो.इस्लाम, सईद अख्तर, शैलेन्द्र सोनी, बरसाती गुप्ता, प्रभात रंजन सिन्हा सहित नगर निगम क्षेत्र के मितानिन बहनें एवं स्वास्थ्य विभाग की टीम उपस्थित थी। कार्यक्रम का संचालन डॉ अमीन फिरदौसी ने तथा आभार डॉ शैलेन्द्र गुप्ता ने किया।
इस दौरान एक मितानिन बहन ने बीस सूत्रीय क्रियान्वयन कार्यक्रम के उपाध्यक्ष अजय अग्रवाल का फेस स्कैनर एवं ऑक्सीमिटर से परीक्षण कर जांच की।