सरगुजा साइंस ग्रुप ने किया एनिग्मा मिसेज इंडिया प्रतिमा सिंह का सम्मान

अम्बिकापुर 14 सितम्बर 2021/प्रतापपुर/नारी में असीम शक्ति होती है। वह अपने हिम्मत, हौसले और योग्यता से बड़े से बड़े लक्ष्य को भी आसानी से प्राप्त कर सकती है। फैशन और सौंदर्य प्रतियोगिता के मामले में कम जागरूक क्षेत्र से होने के बावजूद आगे बढ़कर मिसेज इंडिया का खिताब जीतना मेरे लिए आसान नही था परंतु आप सबके समर्थन एवं सहयोग से मैंने यह सफलता भी पायी, इसके लिए मैं आप सब की आभारी हूँ। उक्ताशय अहमदाबाद से एनिग्मा मिसेज इंडिया 2021 का खिताब जीतकर आईं सूरजपुर जिले के प्रतापपुर विकासखंड की व्याख्याता प्रतिमा सिंह ने कही। प्रतिमा सिंह की इस उल्लेखनीय उपलब्धि पर सरगुजा साइंस ग्रुप एज्युकेशन सोसायटी अम्बिकापुर के बैनर तले टीम प्रोजेक्ट ईज्जत प्रतापपुर द्वारा एक सम्मान समारोह का आयोजन कर उन्हें साल और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ सरस्वती माता की पूजा अर्चना से हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथिद्वय प्रतिमा सिंह के माता पिता थे।
टीम प्रोजेक्ट ईज्जत प्रतापपुर के समन्वयक सुजीत कुमार मौर्य ने बताया कि मुम्बई की एनिग्मा इवेंट मैनेजमेंट कंपनी ने 4 सितंबर 2021 को प्राइड प्लाजा होटल अहमदाबाद में एनिग्मा मिस एन्ड मिसेज इंडिया प्रतियोगिता का आयोजन किया, जिसमे मिसेज वर्ग में भारत भर से 14 प्रतिभागियों में 4 को शार्ट लिस्ट किया गया था जिसमें प्रतिमा सिंह ने यह खिताब अपने नाम किया। अब वे आगामी 10 अक्टूबर को कंपनी द्वारा थाईलैंड में आयोजित अन्तर्राष्टीय प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगी। व्यख्याता मौर्य ने बताया कि प्रतिमा सिंह बहुमुखी प्रतिभा की धनी हैं। वे शिक्षकीय दायित्य निभाते हुए सरगुजा साइंस ग्रुप, टीम ईज्जत प्रोजेक्ट प्रतापपुर से जुड़कर किशोरी एवं महिलाओं में माहवारी स्वच्छता प्रबंधन पर काम कर रही हैं। इस उपलब्धि के पूर्व भी वे जनवरी 2020 में मिसेज सरगुजा रनर अप एवं नवंबर 2020 में मिसेज छत्तीसगढ़ रनर अप का खिताब जीत चुकी हैं। प्रतिमा सिंह की जीत हिम्मत एवं हौसले की जीत- अंचल ओझा कार्यक्रम में वर्चुअल रूप से जुड़े सरगुजा साइंस ग्रुप के संस्थापक एवं टीम प्रोजेक्ट ईज्जत प्रतापपुर के संरक्षक अंचल ओझा ने कहा कि प्रतिमा सिंह की यह उपलब्धि क्षेत्र की किशोरी एवं महिलाओं के लिए प्रेरणा बनेगी। यह जीत उनके हिम्मत और हौसले की जीत है। संस्था की ओर से उन्हें सम्मानित करके हम सब गौरवान्नित है। हम सब थाईलैंड प्रतियोगिता में भी उनके जीत की शुभकामना व्यक्त करते हैं। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्रीमती सिंह के पिता ने कहा कि बेटी ने अपने जीवन में आने वाली हर बाधा और लक्ष्य को एक चुनौती के रूप में लिया और अपनी लगन, मेहनत और सबके सहयोग से उसे पूरा कर दिखाया। कार्यक्रम को जागृति मिंज और मुन्नी पाण्डेय ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन सुजीत कुमार मौर्य ने किया। सम्मान समारोह में संस्था के अमित दुबे, आभा रानी खलखो, अंजना कुजूर, संतोषी मिंज, शिल्पी रानी , इंदिरावती लकड़ा, तरसीला मिंज, रंभा तिवारी, राजेश्वरी निराला, रेणुका कुशवाहा, प्रतिमा कुशवाहा, रिया कुशवाहा, अनिता मौर्य, कल्पना सिंह, चंद्रमनिया पैकरा, सपना पैकरा, अजित पाल मिंज, आरती आदि उपस्थित थे।