6वाँ विश्व युवा कौशल दिवस कार्यक्रम आयोजित

अम्बिकापुर 15 जुलाई 2021 / कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय भारत सरकार द्वारा प्रायोजित जन शिक्षण संस्थान सरगुजा ( छ.ग. ) में वर्चुवल माध्यम से आयोजित 6 वें विश्व युवा कौशल दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया । इस कार्यक्रम में वर्चुवल माध्यम से भारत के प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी जी ने कहा कि युवा कौशल ही आत्मनिर्भर आधार है स्किल के द्वारा युवा वर्ग स्वयं को और देश को आत्मनिर्भर बना पायेंगे । इसी क्रम में माननीय श्री धर्मेनद्र प्रधान शिक्षा मंत्री एवं कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्री भारत सरकार ने कहा कि स्वावलम्बी बनने की कड़ी में युवाओं के लिये नई हुनर , नई स्किल एक आवश्यक आयाम है। 15-31जुलाई तक चलने वाले स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत जन शिक्षण संस्थान में स्वच्छता ध्वजारोहण अपर कलेक्टर अमृत लाल ध्रुव के द्वारा किया गया । इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री अमृत लाल ध्रुव अपर कलेक्टर एवं अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी अम्बिकापुर उपस्थित रहें । कार्यक्रम की अध्यक्षता श्री ललित पटेल सहायक संचालक जिला कौशल विकास प्राधिकरण अम्बिकापुर ने की । सर्वप्रथम मुख्य अतिथि के द्वारा स्वच्छता ध्वजारोहण तथा द्वीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया । इसके साथ ही पढ़ना लिखना अभियान मोहल्ला एवं साक्षरता केन्द्र फुन्दूरडिहारी , गांधीनगर का शुभारम्भ किया गया । कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि श्री गिरीश गुप्ता लाईवलीहुड कॉलेज अम्बिकापुर तथा श्री एम . सिद्दीकी निदेशक जन शिक्षण संस्थान अम्बिकापुर उपस्थित रहें । जन शिक्षण संस्थान के मास्टर ट्रेनर एवं स्टॉफ ने पुष्प गुच्छ द्वारा अतिथियों का स्वागत किया । स्वागत प्रतिवेदन एवं कार्यक्रम की रूपरेखा के अन्तर्गत जन शिक्षण संस्थान में चलाये जा रहे विभिन्न ट्रेडो जिसमें कम्प्यूटर , सिलाई , ब्यूटी पार्लर , इलेक्ट्रीकल प्रशिक्षण की जानकारी एवं स्वच्छता पखवाड़ा के अन्तर्गत स्लोग्न एवं लेखन प्रतियोगिता श्रमदान , वृक्षारोपण आदि कार्यक्रमों की प्रस्तुति की जानकारी एम.सिद्दीकी के द्वारा दी गई । मुख्य अतिथि ने अपने उद्बोधन में कहा कि युवाओं को तकनीकी और व्यवसायिक शिक्षा और प्रशिक्षण द्वारा रोजगार के बेहतर अवसर उपलब्ध कराने के महत्व को चिन्हित करने की आवश्यकता है । साथ ही उन्होंने कहा कि शिक्षा द्वारा ही मनुष्य सफल जीवन का नेतृत्व कर सकता है । इस कार्यक्रम में श्री ललित पटेल ने अपने उद्बोधन में कहा कि सफल और अर्थपूर्ण जीवन हेतु युवाओं को अपने अन्दर छुपे कौशल को परखने की आवश्यकता है । जिससे वे स्वावलम्बी बन सके । कार्यक्रम का संचालन एम सिद्दीकी के द्वारा किया गया । सभी ने साथ मिलकर स्वच्छता को अपने जीवन की धुरी बनाने हेतु शपथ ग्रहण किया । उद्बोधन की अगली कड़ी में श्री गिरीश गुप्ता ने बताया कि स्वस्थ्य शरीर में स्वस्थ्य मस्तिष्क का वास होता है । अतः शिक्षा के साथ स्वच्छता भी अवश्यक पहलु है । इस कार्यक्रम में जन शिक्षण संस्थान के निदेशक एम सिद्दीकी ने कहा कि हमें युवाओं के सामर्थ्य को सही दिशा में इस्तेमाल करने पर अत्यधिक बल देने की आवश्यकता है । युवाओं को सशक्त बनाने के लिये शिक्षा के साथ एक स्किल का होना भी आवश्यक है । मुख्य अतिथि ने कहा स्वच्छता की तरफ बढ़ाया हमारा हर कदम देश को स्वच्छ बनाने में अहम भूमिका अदा करेगा । इसके साथ विभिन्न ट्रेडों के प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र वितरण किया गया । पढ़ना लिखना अभियान मोहल्ला एवं साक्षरता के अन्तर्गत स्वयंसेवी शिक्षक के रूप में लक्की सोनी , प्रमिला , दिव्या सिन्हा को आखर झापी एवं मार्गदर्शिका पुस्तक प्रदान किया गया । कार्यक्रम का समापन एवं आभार प्रर्दशन विवेक सिंह के द्वारा किया गया । कार्यक्रम को सफल बनाने में , श्री अशोक सिंह बी . पी . ओ . मैनपाठ , श्री कमलेश वर्मा बी . पी . ओ . श्री रमेश कुमार . स्नेहलता ठाकुर , कहकशा परवीन , अंजुमाला तिर्की वन्दना मानिकपुरी , रकेश रोशन खाखा , अभिलाष खरे , रजनीश मिश्रा , सत्यानरायण भगत , शिव , जगेश्वर का भी प्रमुख योगदान रहा है ।